काल सर्प दोष और वैदिक ज्योतिष (Positive)
काल सर्प दोष, योग, वैदिक, गुरु, मोर, राहु, केतु

काल सर्प दोष और वैदिक ज्योतिष (Positive)

  • Post author:

कालसर्प दोष काल सर्प दोष आधुनिक भारतीय ज्योतिष का एक बहुत लोकप्रिय मुद्दा है लेकिन इस विषय पर प्रामाणिक जानकारी पाठकों के लिए उपलब्ध नहीं है और साथ ही उनकी…

Continue Reading काल सर्प दोष और वैदिक ज्योतिष (Positive)
ध्यान के द्वारा सुख की प्राप्ति
Spiritual, Meditation, Yog, Peace, Love

ध्यान के द्वारा सुख की प्राप्ति

  • Post author:

सुख प्राप्त करने का एक ही उपाय है। वह तरीका है बस खुश रहना। आप शायद अभी सोच रहे हैं कि "मैं कैसे खुश रहूं।" चीजें ऐसे काम नहीं करती…

Continue Reading ध्यान के द्वारा सुख की प्राप्ति
जाणून घ्या तुमच्या राशीनुसार स्वभाव गुण
ग्रह नक्षत्र

जाणून घ्या तुमच्या राशीनुसार स्वभाव गुण

  • Post author:

सनातन धर्मा मध्ये राशीला खूप महत्व आहे. मुलाच्या जन्मा नंतर बारा दिवसांनी मुलाचे नाव  ठेवण्याची रीत आहे. त्याला बाळसं असे म्हणतात. नाव ठेवतांना मुलाचा जन्म कोणत्या वेळेस झाले, त्याची वार-तिथी…

Continue Reading जाणून घ्या तुमच्या राशीनुसार स्वभाव गुण

श्रीराम ओर हनुमानजी की भक्तिमय प्रेम गाथा

  • Post author:

रामनवमी के उपलक्ष के रूप मे आपको, श्री राम के परम भक्त हनुमान की कहाणी बताने जा रहे है। जिसकी कहाणी सुनकर मन प्रसन्न हो जाता है, सब दुख दूर…

Continue Reading श्रीराम ओर हनुमानजी की भक्तिमय प्रेम गाथा
गरुड पुराण : नरक यातनांओ का वर्णन जिसे जानणा बहोत जरुरी है
qwickin.com

गरुड पुराण : नरक यातनांओ का वर्णन जिसे जानणा बहोत जरुरी है

  • Post author:

नरक में गिराने वाले पापों का वर्णन इस प्रकृती मे जन्म लेने वाले सभी सजीव प्राणी की एक दिन मृत्यू होणे वाली है। जिसे कोई नकार नही सकता।क्योकी मृत्यु प्रकृति…

Continue Reading गरुड पुराण : नरक यातनांओ का वर्णन जिसे जानणा बहोत जरुरी है
गौतम ऋषी ओर देवी गंगा का धरती पर अवतरण
Maa Ganga, Rushi Gautam

गौतम ऋषी ओर देवी गंगा का धरती पर अवतरण

  • Post author:

गौतम ऋषी - महान तपस्वी प्राचीन काल में गौतम नामक एक ऋषी थे, जिनकी पत्नी का नाम अहिल्या था। ऋषी गौतम दक्षिण में स्थित ब्रह्म पर्वत पर हजार वर्षों में…

Continue Reading गौतम ऋषी ओर देवी गंगा का धरती पर अवतरण
शिव सहस्रनाम स्तोत्र – श्रीविष्णू को सुदर्शन चक्र की प्राप्ती
Qwickin.com

शिव सहस्रनाम स्तोत्र – श्रीविष्णू को सुदर्शन चक्र की प्राप्ती

  • Post author:

शिव के सहस्त्र नाम (Shiv Sahastra Nam) स्वयं श्रीहरी विष्णु ने सर्वप्रथम उच्चारीत किये थे। श्री हरी ने शिव जी को 1008 तरह के पुष्प अर्पित करने थे और हर…

Continue Reading शिव सहस्रनाम स्तोत्र – श्रीविष्णू को सुदर्शन चक्र की प्राप्ती
Buddha’s Middle Way Of Life – मध्यम मार्ग
Qwickin.com

Buddha’s Middle Way Of Life – मध्यम मार्ग

  • Post author:

बुद्ध के जीवन का मध्य मार्ग.... जीवन मे सबकुछ समतल होणा चाहिये। ना कुछ कम ना कुछ जादा। हर बार अति करणे मे नुकसान ही होता है ओर कुछ ना…

Continue Reading Buddha’s Middle Way Of Life – मध्यम मार्ग
Blind Faith in Saint
Qwickin.com

Blind Faith in Saint

  • Post author:

संत को जांचे, परखे ओर विश्वास करे। अखिल विश्व मे साधू संतो को अलग अलग नामो से जाणा जाता है। हर एक धर्म को चलाणे मे इनको प्रमुख स्थान दिया…

Continue Reading Blind Faith in Saint

Shri Krishna – If Not, The Result Would be Different.

  • Post author:

श्री क्रिष्ण - ना होते तो परिणाम अलग होते। महाभारत युद्ध के दौरान भगवान श्री कृष्‍ण ने कई लीलाएं दिखाई और बिना अस्‍त्र शस्‍त्र उठाए ही पांडवों को युद्ध में…

Continue Reading Shri Krishna – If Not, The Result Would be Different.