कोरोना (Kovid-19) – रोग प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर करणे के सामान्य उपाय
My family my responsibility

कोरोना (Kovid-19) – रोग प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर करणे के सामान्य उपाय

  • Post author:

कोरोना एक ऐसी महामारी तयार हो गई है, जिसे बच्चो से लेकर बुढो तक पता है। कोई इसे मानता है ओर कोई नही मानता। लेकीन जो भी हो एक भयानक बिमारी सारे विश्व मे फैल गई है, ओर तांडव मचाणा शुरू कर दिया है। विश्व स्वास्थ संगठन ने भी इसे घातक श्रेणी मे रख दिया है। अगर अभी तक आपने इसे समजा नही है तो समज जाइये। क्योकी आगे कुछ सालो तक ऐसे ही रहेंगे। इसे बचने का एक ही तरीका है, की आपको अपनी इम्युनिटी पावर याने की आंतरिक शक्ती को मजबूत करणा है। जब तक हम अपनी अंदरुनी शक्ती को बढाते नही तबतक हम सुरक्षित नही।

अबतक हमे ऐसा देखने को मिला है की कोरोना सिर्फ ज्यादा उम्र के लोगो को ही होता है, लेकीन नया स्ट्रेन कोरोना वायरस 30 -35 उम्र से लेकर बच्चो को भी अपने चपेट मे ले रहा है। इसीलिये हमे ज्यादा सतर्क होणा चाहिये। अपनी ओर अपने परिवार की सुरक्षा हमे ही करणी है।

कोरोना से लढणे के लिये इम्युनिटी पावर बढाना बहोत जरुरी है। आज हम कुछ घरगुती उपाय बताने जा रहे है। जिसे आप घर मे रहकर बना सकते है। “आजीबाई चा बटवा” आपने इसे सुना ही होगा। पुराने काल के लोग इसी उपाय से अपनी इम्युनिटी पावर बढाते थे। यही हम आपको बताने जा रहे है।

qwickin 1 1
आयुष मंत्रालय द्वारा प्रसारित

आजकल अपना और अपने परिवार का ख्याल रखना बहुत जरूरी है। और ज्यादा तर इसमें फेफड़ों की देखभाल करना बहोत जरुरी है। क्योंकि केवल जिनके फेफड़े अच्छे हैं वही लोग कोरोना को मात दे सकते है।

जो उपाय हम आपको बताने जा रहे हैं, वह फेफड़ों को 100 प्रतिशत साफ और मजबूत रखने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। अशुद्ध रक्त हमारे दिल में शुद्ध होता है। हमारे फेफड़े ऑक्सीजन, एक महत्वपूर्ण तत्व को मिलाने का काम करते हैं। इसमें एक तरल पदार्थ होता है, अर्थात् कफ, यदि कफ की मात्रा ठीक है, तो कोई समस्या नहीं है। हालांकि, वायरल संक्रमण, ठंडे खाद्य पदार्थ, निमोनिया आदि में खांसी की मात्रा बढ़ जाती है। परिणामस्वरूप, यदि कफ की मात्रा बढ़ जाती है, तो ऑक्सीजन में फेफड़ों की क्षमता कम हो जाती है। नतीजतन, शरीर में ऑक्सीजन का स्तर कम हो जाता है। परिणामस्वरूप, बाहर से ऑक्सीजन लगाना पड़ता है। और अगर यह समय पर प्राप्त नहीं होता है, तो मृत्यु की संभावनाहै, इसे इंकार नहीं किया जा सकता है।

नये कोरोना के लक्षण क्या है? कोरोना के शुरुआती लक्षण

कोरोना वायरस से ग्रसित लोगों में शुरुआती तौर पर

  1. तेज़ बुखार 
  2. खांसी 
  3. जुकाम 
  4. गले में खराश 
  5. सांस लेने में तकलीफ होना 
  6. तेज़ सर दर्द 
qwickin 2 1
आयुष मंत्रालय द्वारा प्रसारित

कोविड –19 के सामान्य लक्षण

कोरोना वायरस के कुछ सामान्य लक्षण है जिनसे सतर्क रहने की बहुत आवश्यकता है। 

  1. शरीर में दर्द एवं पीड़ा 
  2. गले में खराश 
  3. दस्त लगना 
  4. आँख आना / आँखों में तकलीफ होना 
  5. सरदर्द / तेज़ सरदर्द 
  6. स्वाद या गंध का चला जाना  
  7. त्वचा पर दाने या उंगलियों या पैर की उंगलियों का काटना, चुभन, लालिमा 

कोरोना वायरस के गंभीर लक्षण

  1. सांस लेने में कठिनाई या सांस की तकलीफ 
  2. ऑक्सीज़न लेवल का गिरना 
  3. सीने में दर्द या दबाव की शिकायत 
  4. बोलने और चलने-फिरने में परेशानी 
  5. शरीर का टूटने लगना 

वर्तमान में कोरोना के लक्षण

वर्तमान में कोरोना के कुछ नए लक्षण उभर कर आ रहे हैं जैसे

  1. जीभ पर धब्बे और सूजन का उभरना,
  2. स्किन पर लालिमा,
  3. स्किन पर जलन,
  4. पाँवों के तलवों में जलन,
  5. पैरों के तलवों में सूजन,
  6. स्किन एलर्जी,
  7. डायरिया,
  8. उल्टी दस्त,
  9. अपच,
  10. पेट में दर्द,
  11. बहती हुई नाक,
  12. सुखी खांसी,
  13. बुखार। 

उपर बताये गये लक्षण यदी पाये जाते है, तो ज्यादा सतर्क हो जाईये।  

qwickin 3 1
आयुष मंत्रालय द्वारा प्रसारित

आज हम आपको जो उपाय बताने जा रहे हैं वह सर्दी, गले में खराश और खांसी जैसी छोटी-मोटी बीमारियों को भी कम करता है। क्या खास है कि इस उपाय मे, शरीर की गर्मी नहीं बढ़ती है। आपकी इम्युनिटी पावर बहोत तेजी से बढती है ओर कोरोना जैसी बिमारी को दूर रखणे मे मदत करता है।

घर मे कोरोना प्रतीबंधक काढा बनाने की विधी।

1 ) आधा इंच अदरक का तुकडा

2 ) तुलसी के 10 /12 पत्ते

3 ) इलायची 2 नग

4 ) तीन से चार लौंग

5 ) दालचिनी का छोटा तुकडा

6 ) काली मिर्च 2 / 4 दाना

7 ) चुटकी भर हलदी

8 ) स्वादानुसार गुड

इन सब चीजो को आप अपने हिसाब से भी ले सकते है। सब चीजो को एकत्र करके पिसकर एक लिटर पाणी मे उबाले। जब पाणी आधा रह जाये तो एक छलनी मे छानकर, गरम- गरम ही सुबह खाली पेट ओर रात को सोने पहले पिये। घर मे जितने भी लोग है, बच्चो से लेकर बुढो को पिलाये। जिनको शुगर है वो गुड का प्रयोग ना करे। आप इसे 15 से 20 दिन लीजिये। आप इसे लगातार ओर ज्यादा दिन तक भी ले सकते है। ये काढा शक्तिवर्धक / स्वास्थवर्धक है इससे कोई हानी नही होगी।

साथ ही गरम पाणी या गरम दुध मे हलदी मिलाकर रोज सुबह – शाम पिजीये।

यदि आपको उपर दिया हुआ उपाय पसंद है या अच्छा लगे। तो कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ साझा करें।

qwickin 4 1
आयुष मंत्रालय द्वारा प्रसारित

सतर्कता बनाए रखना जरुरी

यह बिल्कुल ना सोचें कि कोरोना खत्म हो गया है। साथ ही जिन लोगों ने वैक्सीन लगवा ली है, वह भी मास्क का उपयोग जारी रखें और सोशल डिस्टेंसिंग सहित अन्य नियमों का पालन करें। सरकार का साथ दे। जो भी नियम, कायदे , कानून है उनका पालन करे।

स्वस्थ रहे – सुरक्षित रहे – खबरदारी बरते ।

सूचना- यहाँ साझा किया गया समाधान / उपाय, सामान्य जानकारी पर आधारित है।  क़्विक्किन (qwickin) इस जानकारी की पुष्टि नहीं करता है। उपाय लेने से पहले विशेषज्ञ की सलाह लेनी चाहिए।

Leave a Reply